Fungible token (FT) और Non-Fungible token (NFT) में क्या Difference है?

Non-Fungible token (NFT) in hindi
Non-Fungible token (NFT) in hindi

Fungible और Non-Fungible token (NFT) में क्या Difference है?

Fungible token जिसे आप एक दूसरे से बदल सकते हैं – जैसे बिटकॉइन, ईथर लेकिन NFT डिजिटल संपत्ति का एक रूप है जबकि क्रिप्टोकरेंसी का मौद्रिक मूल्य होता है, NFT को उनकी विशिष्टता के अनुसार मूल्यांकित किया जाता है।

नॉन-फंजिबल टोकन (NFT) क्या है? NFT से करोड़ों कैसे कमाए?

दोस्तों नॉन-फंजिबल टोकन (Non-Fungible tokens in hindi) को समझने से पहले हम Fungibility को समझने की कोशिश करते हैं. Fungibility किसी भी वस्तु या पदार्थ की वह खासियत होता है। जिसके द्वारा इसके कीमत में बिना किसी कटौती किए इसके जैसा ही अन्य दूसरा वस्तु जैसे की animation clip, video, image, pdfs, text file, म्यूजिक, पेंटिंग इत्यादि के साथ इसे बदला जा सके। इसे हम एक उदाहरण के साथ समझते हैं। मान लीजिए की एक व्यक्ति के पास ₹500 का नोट है और दूसरे व्यक्ति के पास ₹100 के 5 नोट है. अब दोनों व्यक्ति के पास कुल ₹500 है और वह दोनों व्यक्ति नोटों को एक दूसरे के साथ बदल सकते हैं क्योंकि उन दोनों के पास कुल ₹500 ही रहेंगे। और उन दोनों के ₹500 के नोट का वैल्यू नहीं कम होता है और नहीं ज्यादा होता है यह fungibility होती है। ठीक उसी तरह नॉन-फंजिबल  (Non-fungibility) वह खासियत होती है जिसके द्वारा उस वस्तु जैसे की animation clip, video, image, pdfs, text file, म्यूजिक, पेंटिंग इत्यादि की अनोखापन कायम रहती है और उसे अन्य वस्तु के साथ नहीं बदला जा सकता है।

अब मान लीजिए कोई पेंटिंग, पुरानी मूर्ति जो एक म्यूजियम में सजी हो, वह एक ही रहेगी और वह अन्य वस्तुओं के साथ नहीं बदली जा सकता है ठीक उसी तरह एनएफटी भी एक डिजिटल ऐसेट को दर्शाती है जो क्रिप्टोग्राफी के द्वारा सुरक्षित हैं. क्रिप्टोग्राफी वह तकनीक है जिसके द्वारा क्रिप्टो करेंसी को बनाया जाता है।

NFT बनाकर कैसे बेचे? (How to create NFT in Hindi)

जरुरी नहीं है की NFT के लिए आपको किसी तरह की कला ना भी हो तभी भी आप उसको बेच पायेंगे NFT कुछ भी हो सकती है लेकिन वो दूसरों से अलग होनी चाहिए अगर आप इन्टरनेट से कोई animation clip, video, image, pdfs, text file या कुछ भी उठाकर उसको बेचने जायेंगे तो वो नहीं बिकने वाला है। 

NFT (नॉन-फंजिबल टोकन) का मतलब ही अनोखा यानी unique है आप खुद की एक अलग पेंटिंग बनाकर बेच सकते है या फिर आप अपनी तस्वीर, गाने या किसी विडियो को भी एनएफटी की तरह बेच सकते है।

नॉन-फंजिबल टोकन (NFT) क्या है? NFT से करोड़ों कैसे कमाए? 

इसके बाद आपको यह तय करना है की आप किस Blockchain पर उस NFT को बेचना चाहते हैं आप चाहे तो उसको Ethereum की ब्लॉकचेन पर रख सकते हो जो की आज के समय में सबसे ज्यादा इस्तेमाल की जाती है। NFT को खरीदने बेचने के लिए या फिर आप Opensea.io जैसी अन्य ब्लाकचैन को चुन सकते हो एनएफटी को स्टोर करने के लिए।

एक बार अपनी डिजिटल आर्ट को चुनने के बाद आपको कुछ Ether खरीदने पड़ेंगे इसके लिए आपको Metamask पर वॉलेट बनाना पड़ता है क्योंकी ज्यादातर NFT Ethereum के नेटवर्क पर बिकती है और आपको Ethereum के नेटवर्क को इस्तेमाल करने के लिए फीस देनी पड़ती है इसलिए आपको सबसे पहले कुछ Ether खरीदने पड़ेंगे जो Metamask के वॉलेट में जमा होता है और उसके बाद आपको ओपन सी जैसे प्लेटफार्म पर अपना एनएफटी लिस्ट कराना होता है और जब भी आप अपने उस Digital Art को लिस्ट करोगे तो आपको उसके लिए कुछ Gas fees देना पड़ता है जिसको साधारण भाषा में कहे तो आपको अपनी आर्ट को लिस्ट करने के लिए फीस देना होता है।

इसलिए जिस भी Digital Art को आप चुनते हैं उसे बहुत सोच समझ के चुने आपको खुद पर यह भरोसा हो की आपकी उस Digital Art को कोई न कोई तो खरीद ही लेगा, क्योंकी Ethereum के नेटवर्क पर काफी ज्यादा फीस लगती है साथ ही साथ आपको एक Digital Wallet की जरुरत भी पड़ेगी “Metamask” जो की एक डिजिटल वॉलेट है यहां आप अपना अकाउंट बना सकते हैं। 

एक बार अपना एनएफटी लिस्ट करने के बाद जितना ज्यादा आपके आर्ट की डिमांड होगी उतना ज्यादा आपके डिजिटल आर्ट की बोली लगाई जायेगी और और ज्यादा पैसे मिलने की संभावना होती है आप चाहे तो खुद से भी अपने NFT की कीमत को सेट कर सकते है।

नॉन-फंजिबल टोकन (NFT) क्या है? NFT से करोड़ों कैसे कमाए?

NFT or Cryptocurrency me Difference में क्या अंतर है?

एनएफटी और क्रिप्टोकरंसी में क्या अंतर है वह जानते हैं हालंकि नॉन-फंजिबल टोकन भी क्रिप्टो करेंसी की तरह ब्लॉकचेन पर चलती है परन्तु Cryptocurrency Fungible है। यानि क्रिप्टोकरेंसी को आपस में बदला जा सकता है उदाहरण के लिए समझे तो 1 Bitcoin के बदले में 1 Bitcoin को आपस में बदला जा सकता है क्योंकि इसकी कीमत  समान ही रहेगी या फिर आप चाहे तो उसी बिटकॉइन से Ethereum या फिर कोई दूसरी क्रिप्टोकरेंसी को खरीद सकते है, पर वही एनएफटी नॉन-फंजिबल है। आप इसमें ऐसा नहीं कर सकते है आप एक NFT के बदले दूसरी NFT नहीं खरीद सकते क्योंकी दोनों की पहचान अलग है और और दोनों एनएफटी एक दूसरे से बिल्कुल अलग होंगे। 

नॉन-फंजिबल टोकन (NFT) क्या है? एनएफटी से करोड़ों कैसे कमाए?

1 COMMENT

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here