NATO Kya Hai. नाटो का फुल फॉर्म क्या है?, दुनिया में कितने देश नाटो के सदस्य हैं? Full Information

825
NATO Image
NATO Image

Jai Hind Dosto, आज हम जानेंगे दुनिया के सबसे बड़े सैन्य गठबंधन नाटो (NATO) के बारे में। जिस की मौजूदगी दुनिया भर में है। इस संगठन में सबसे बड़ा सदस्य अमेरिका है जबकि सबसे छोटा सदस्य 200 सैनिकों वाला यूरोपीय देश आइसलैंड है।

वर्तमान समय (2022) की बात करें तो जब से रूस ने यूक्रेन पर सैन्य करवाई की घोषणा की है। तब से नाटो सैन्य संगठन NATO खूब चर्चा में है। लोग इसके बारे में जानना चाहते है कि नाटो का फुल फॉर्म क्या है? NATO क्या है? NATO स्थापना कब हुआ दुनिया में कितने देश नाटो के सदस्य हैं? दोस्तों इस आर्टिकल में अंत तक बने रहिये। आज के इस पोस्ट में हम आपको बताएंगे की नाटो (NATO) क्या है और नाटो से जुड़ी सभी महत्वपूर्ण जानकारी देने वाला हूं। 

NATO Full Form- नाटो का फुल फॉर्म

  • NATO Full Form in Englsh “North Atlantic Treaty organisation”.
  • नाटो का फुल फॉर्म हिंदी में  “उत्तर अटलांटिक संधि संगठन” होता है। 

North Atlantic Treaty organisation को  संक्षिप्त रूप में NATO (नाटो) कहते हैं।

USSR का full form क्या है? जानिए USSR के स्थापना से विघटन का कारण?

डोनेत्स्क और लुहांस्क क्या है? रूस और यूक्रेन के बीच विवाद का मुख्य कारण क्या है?

नाटो मुख्यालय कहां है?- NATO HEADQUATER

NATO नाटो का वर्तमान समय में मुख्यालय बेल्जियम की राजधानी ब्रुसेल्स में है।

NATO (नाटो) की स्थापना- 

नाटो की स्थापना 12 संस्थापक सदस्यों द्वारा अमेरिका की राजधानी वाशिंगटन में 4 अप्रैल 1949 में किया गया था और वर्तमान समय में इस सैन्य संगठन में सदस्य देशों की संख्या 30 है। 

नाटो क्या है- NATO Kya hai

नाटो एक सैन्य संगठन है। वर्तमान समय में इसमें कुल सदस्य देशों की संख्या 30 है इस सैन्य संगठन में वर्तमान समय में 28 यूरोपियन देश और दो नॉर्थ अमेरिकी देश सदस्य हैं। NATO यानी उत्तर अटलांटिक संधि संगठन उत्तरी अमेरिका और यूरोप का एक साझा सैन्य संगठन है। द्वितीय विश्वयुद्ध के बाद बने इस संगठन का उस वक्त पहला और सबसे बड़ा मकसद यह था कि सोवियत संघ (USSR)  के बढ़ते दायरे को सीमित करना इस संगठन का दूसरा नाम अटलांटिक अलायंस है। 

इस संधि के अंतर्गत अगर कोई बाहरी देश किसी नाटो सदस्य देश पर हमला करे तो बाकी सदस्य देश हमला झेल रहे देश की सैन्य और राजनीतिक तरीके से सुरक्षा करेंगे साझा सुरक्षा के बारे में सबसे महत्वपूर्ण बात NATO घोषणापत्र के अनुच्छेद पांच में लिखी है। जिसके अनुसार, “उत्तरी अमेरिका या यूरोप के किसी एक या एक से ज्यादा सदस्यों पर हथियारों से हमला हो तो माना जाएगा कि सब नाटो सदस्य देश पर हमला हुआ है“।

USSR का full form क्या है? जानिए USSR के स्थापना से विघटन का कारण?

डोनेत्स्क और लुहांस्क क्या है? रूस और यूक्रेन के बीच विवाद का मुख्य कारण क्या है?

नाटो के स्थापना का कारण

नाटो की स्थापना का प्रमुख उद्देश्य यूरोप में सोवियत संघ (USSR) की साम्यवादी विचारधारा को रोकना था क्योंकि द्वितीय विश्व युद्ध के समय सोवियत संघ ने पूर्वी यूरोप से अपनी सेनाएं हटाने से मना कर दिया था और वहां साम्यवादी शासन की स्थापना करना चाहता था।

इसके स्थापना का दूसरा सबसे बड़ा मुख्य कारण यह था कि दूसरे विश्व युद्ध में यूरोपियन देशों ने भारी नुकसान उठाया था जिसके कारण पूरे यूरोप की आर्थिक स्थिति बहुत ज्यादा खराब हो गई थी।

नाटो का स्थापना का उद्देश्य ? 

  • नाटो में सदस्य देश एक दूसरे की राजनीतिक और सैन्य तरीके से राष्ट्र की स्वतंत्रता और सुरक्षा की गारंटी प्रदान  करना है।
  •  यूरोपीय देशों को एक सूत्र में संगठित करना।
  •  अपने सदस्य देशों के क्षेत्र की रक्षा करना।
  •  समुद्र से संभावित खतरे से अपने सहयोगियों देशों की मदद करना।
  •  अंतरराष्ट्रीय स्तर पर उत्पन्न होने वाले नए खतरों से सभी सदस्य देशों को सामूहिक रक्षा प्रदान करना।
  •  भविष्य के खतरों से निपटने के लिए नए-नए उपकरणों के निर्माण को प्रोत्साहन करना।

नाटो में कुल कितने सदस्य देश हैं?

जब 4 अप्रैल 1949 को नाटो का गठन किया गया था तब उस समय केवल 12 ही सदस्य देश थे जिसमें अमेरिका, ब्रिटेन, नॉर्वे, बेल्जियम, आइसलैंड, फ्रांस, कैनेडा, इटली, पुर्तगाल, आइसलैंड, नीदरलैंड, डेनमार्क देश शामिल थे।

 वर्तमान समय में नाटो संगठन में कुल 30 सदस्य देश हैं?

  • संयुक्त राज्य अमेरिका
  • यूनाइटेड किंगडम
  • फ्रांस
  • कनाडा
  • इटली
  • अल्बानिया
  • बुल्गारिया
  • क्रोएशिया
  • चेक रिपब्लिक
  • इस्तोनिया
  • जर्मनी
  • ग्रीस
  • लातविया
  • लिथुआनिया
  • लक्जमबर्ग
  • मोंटेनिग्रो
  • नीदरलैंड
  • पुर्तगाल
  • डेनमार्क
  • पोलैंड
  • स्लोवाकिया
  • स्लोवेनिया
  • स्पेन
  • तुर्की
  • रोमानियाआइसलैण्ड
  • बेल्जियम
  • लक्जमर्ग
  • नार्वे

FAQs- 

Q. क्या भारत नाटो का सदस्य है?

 नहीं, भारत नाटो का सदस्य नहीं है।

Q. नाटो का मुख्यालय कहां है?

 नाटो का मुख्यालय ब्रुसेल्स की राजधानी बेल्जियम में है। 

Q. नाटो का पूरा नाम क्या है?

नाटो का पूरा नाम नॉर्थ अटलांटिक ट्रीटी ऑर्गेनाइजेशन है।

Q. नाटो में कितने सदस्य देश हैं?

वर्तमान समय में नाटो में कुल सदस्य देशों की संख्या 30 है।

Q.  वर्तमान समय में नाटो के महासचिव कौन है?

वर्तमान समय में नाटो के महासचिव नॉर्वे के  पूर्व प्रधानमंत्री Jens Stoltenberg है।

Q. नाटो का गठन कब किया गया?

 नाटो की स्थापना 4 अप्रैल 1949 को किया गया था। 

USSR का full form क्या है? जानिए USSR के स्थापना से विघटन का कारण?

डोनेत्स्क और लुहांस्क क्या है? रूस और यूक्रेन के बीच विवाद का मुख्य कारण क्या है?

नॉन-फंजिबल टोकन (NFT) क्या है? NFT से करोड़ों कैसे कमाए?

Bank PO: बैंक पीओ कैसे बनें? Bank PO का Exam Pattern, Syllabus, Salary Full Information

SSC MTS Exam (मल्टी टास्किंग स्टाफ) क्या है? MTS Exam Pattern, Age, Salary, Qualification.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here